Home International अमेरिका के बड़े बैंक महिलाओं को सौंपने लगे अपने शीर्ष पद की...

अमेरिका के बड़े बैंक महिलाओं को सौंपने लगे अपने शीर्ष पद की जिम्मेदारी, लेकिन फाइनेंशियल इंडस्ट्री के शीर्ष पदों पर अभी भी है पुरुषों का दबदबा


  • Hindi News
  • International
  • Big Banks Of America Start Handing Over Their Top Positions To Women, But The Top Positions In The Financial Industry Are Still Dominated By Men

न्यूयॉर्क9 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

जेन फ्रैजर अगले साल फरवरी से सिटी बैंक के चीफ एक्जीक्यूटिव का पद संभालेंगी। -फाइल फोटो

  • सिटी ग्रुप से जेन फ्रैजर को माइकल कॉर्बैट की जगह अपना चीफ एक्जीक्यूटिव नियुक्त किया है
  • किसी महिला को सीईओ नियुक्त करने में किसी बड़े बैंक की तुलना में एक प्रमुख कार निर्माता कंपनी आगे रही है

अमेरिका के बड़े बैंक अब अपने शीर्ष पद की जिम्मेदारी महिलाओं को सौंपने लगे हैं। हाल में सिटी ग्रुप से जेन फ्रैजर को माइकल कॉर्बैट की जगह अपना चीफ एग्जीक्यूटिव नियुक्त किया है। वह अगले साल फरवरी से यह पद संभालेंगी। इसी के साथ फ्रैजर वॉल स्ट्रीट के बड़े बैंकों में से एक की कमान संभालने वाली पहली महिला प्रमुख बन जाएंगी।

जेपी मॉर्गन चेस के पूर्व सीनियर एग्जीक्यूटिव, हेदी मिलर ने इस घटनाक्रम पर अपनी टिप्पणी में कहा है कि महिलाओं को शीर्ष पदों की जिम्मेदारी दी जानी चाहिए। फ्रैजर का सिटी ग्रुप के प्रमुख के तौर पर चुना जाना एक सही कदम है। हालांकि अब भी फाइनेंशियल इंडस्ट्री के शीर्ष पदों पर अभी भी पुरुषों का दबदबा है।

वैसे अमेरिकी कंपनियों में कुछ ही महिलाएं सीईओ बन पाई हैं और महिलाएं कंपनियों के बोर्ड से बहुत दूर हैं। बिजनेस मैगजीन फॉर्च्यून 500 जो रेवेन्यू के लिहाज से देश की सबसे बड़ी कंपनियों की रैंकिंग जारी करती है। इनमें सिर्फ 37 में महिलाएं प्रमुख हैं और यह इनकी अब तक की सबसे बड़ी संख्या है।

फाइनेंस के क्षेत्र में तकरीबन 40 फीसदी महिलाएं

फाइनेंस के क्षेत्र में जहां तकरीबन 40 फीसदी महिलाएं काम कर रही हैं, इनमें कुछ ही महिलाएं ऐसी हैं जो शीर्ष पदों तक पहुंची हैं। 61 साल की मार्गरेट कीन देश की एक प्रमुख एक देश की एक प्रमुख कंज्यूमर फाइनेंशियल सर्विसेज कंपनी सिंक्रोनी की 29 नवंबर 2005 से सीईओ हैं।

वहीं, 65 साल की बेथ एलाइन मूनी अमेरिका के टॉप-20 बैंकों में शुमार कीकॉर्प का एक मई 2011 से सफलतापूर्वक संचालन कर रही हैं। फिर भी, फॉर्च्यून 500 कंपनियों में शामिल 91 फाइनेंस कंपनियों में से सिर्फ सात में एक महिला बॉस है। जब जेन फ्रेजर अगले साल जब सिटी ग्रुप के चीफ एक्जीक्यूटिव का पद संभालेंगी, उस समय वह एक महिला सीईओ के साथ अमेरिका का अब तक का सबसे बड़ा बैंक होगा।

मैरी बारा जनरल मोटर्स की पहली सीईओ

हालांकि किसी महिला को सीईओ नियुक्त करने में किसी बड़े बैंक की तुलना में एक प्रमुख कार निर्माता कंपनी आगे रही है। 58 साल की मैरी बारा जनरल मोटर्स की पहली सीईओ हैं। वे 15 जनवरी 2014 से बतौर सीईओ कंपनी की कमान संभाल रही हैं। लेकिन हो सकता है जेन फ्रेजर वॉल स्ट्रीट के किसी बैंक के शीर्ष पद पर रहने वाली अकेली महिला न रह पाएं, क्योंकि अटकलें हैं कि बैंक ऑफ अमेरिका की चीफ ऑपरेटिंग ऑफिसर कैथी बेसेन्ट अमेरिका के चौथे बड़े बैंक वेल्स फारगो के शीर्ष पद के लिए उम्मीदवार हो सकती हैं।



Source link

Leave a Reply

Most Popular

लोकल मांग को पूरी करने की योजना: इंडियन ऑयल 33 हजार करोड़ रुपए का निवेश करेगी, पानीपत रिफाइनरी की क्षमता बढ़ाएगी

Hindi NewsBusinessIndian Oil To Invest 33 Thousand Crore Rupees, Increase Capacity Of Panipat RefineryAds से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल...

ऑलराउंडर यूसुफ पठान का संन्यास: कहा- भारत के लिए 2 वर्ल्ड कप जीतना और सचिन को कंधे पर उठाना करियर के सबसे यादगार पल

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐपबड़ौदा3 घंटे पहलेकॉपी लिंकभारतीय ऑलराउंडर यूसुफ पठान ने क्रिकेट के...

ब्लड शुगर कंट्रोल करने में मदद करता है नारियल पानी, इसे पीने के हैं और भी कई फायदे

नई दिल्ली: डायबिटीज के मरीजों को मीठी चीजों, खासकर शुगरी ड्रिंक्स से दूर रहने की सलाह दी जाती है ताकि उनके शरीर का...

Recent Comments

Live Updates COVID-19 CASES
%d bloggers like this: